गुजरात के IPS संजीव भट्ट का ऐसे हाल बना डाला मोदी सरकार ने ? क्यों !

IMG-20200213-WA0214

रिपोर्टर:-

वह एक वक्त के गुजरात के आईपीएस संजीव भट्ट को पेशी पर देखकर उनकी पत्नी श्वेता भट्ट फफक कर रोने लगीं!
यह चित्र उसी समय का है , सोचिए कि यह परिवार ज़ुल्म के खिलाफ लड़ने की कितनी बड़ी सज़ा भुगत रहा है। आप संजीव भट्ट का चेहरा देखिए।

संजीव भट्ट का कसूर मात्र इतना था कि वह गुजरात दंगों में गुजरात सरकार और उसके मुखिया नरेन्द्र मोदी के सामने नहीं झुके और मुसलमानों का नरसंहार करती सरकार के सामने सीना तान कर खड़े हो गये।
अदालत में नरेन्द्र मोदी और उनकी सरकार के खिलाफ और पीड़ित मुसलमानों के पक्ष में गवाही दी?
परिणाम ? आईपीएस की नौकरी गयी और अदालत-सरकार के गठजोड़ के कारण उम्रकैद की सज़ा काट रहे हैं।
मुझे याद नहीं आता कि एक भी मुस्लिम आर्गेनाईजेशन ने संजीव भट्ट के समर्थन में कोई आवाज़ उठाई हो या कोई आंदोलन किया हो या कोई मदद की हो।
यह एहसानफरामोशी है , हम नपुंषक एहसानफरामोश हो गये हैं और इस देश में हमारी बर्बादी की यही सबसे बड़ी वजह है।

यह कायरता है , जो लोग कहते हैं कि मुसलमान लीडर मसलेहत समझते हैं , उनपर उंग्ली नहीं उठाना चाहिए वह इतिहास नहीं जानते ।
1857 का गदर पढ़ लीजिए , उनकी हिम्मत व लीडरशिप आपके दिमाग में उतर जाएगी।
मुसलमानों को संजीव भट्ट , तीस्ता शीतलवाड़ से सीखना चाहिए कि ज़ुल्म के खिलाफ़ लड़ने की बजाय ज़ालिम के सामने झुक जाना “हिकमत” नहीं “नामर्दी” है।

SHARE THIS

RELATED ARTICLES

LEAVE COMMENT

रिपोर्टर:- भारत के विदेश मंत्रालय ने इस देश के गृहमंत्री की अरुणाचल प्रदेश की यात्रा पर चीन की प्रतिक्रिया को पूरी तरह से रद्द कर...

READ MORE

उनकी मेहमाननवाजी में होगी काम की चर्चा, वो भी बिना कोई खर्चा !

February 22, 2020 . by admin

रिपोर्टर:- अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उनकी पत्नी मेलानिया ट्रम्प 24 फरवरी 2020 को दो दिवसीय दौरे पर भारत आ रहे हैं। उनके 3...

READ MORE

इस तरह दुनिया मे मोदीजी का डंका बजने में कोई कसर बाकी रह गई है क्या ?

February 22, 2020 . by admin

रिपोर्टर:- कल श्रीलंका ने हमारे 11 मछुआरों को गिरफ्तार कर लिया ? बांग्लादेश की फ़ौज सीमा पर तार लगाने की मंजूरी नहीं दे रही है।...

READ MORE

TWEETS