माबलीचिंग की घटनाओं को रोकथाम लगाने की खास पहल की शुरआत सबसे पहले किसने की ? जानिए !

IMG-20190718-WA0303

रिपोर्टर:-

चलो देर से ही सही किसी को तो मुसलमानो पर रहम तो आया वर्ना अभी तक तो सरकार और कानून की आँखों पर पट्टी बंधी हुई है इनको मोब लिंचिंग में मारे गए मुसलमान और उसके घर वालो का दर्द न दिखाई देता हैं और न सुनाई देता हैं! कहते सब हैं पर करता कोई कुछ नही हैं।

मुसलमानो के साथ मॉब लिंचिंग की वारदातों को रोकने के लिए यूनाइटेड अगेन्ट्स हेट संस्था ने एक हेल्पलाइन नंबर जारी करते हुए मॉब लिंचिंग की घटना को रोकने के लिए भारत के हर शहर और गाँव मे एक एक टीम बनाई हैं।
उस टीम में एक पत्रकार एक वकील और आठ से लेकर दस लोग मुकामी होंगे।

जो कॉल आने पर फ़ौरन घटना वाली जगह पहुंचेगी और मॉब लिंचिंग को रोकने का प्रयास करेगी।
वाकई ये पहल सराहनीय हैं इस टीम में अमन पसंद हिन्दू और मुसलमान रहेंगे।
मॉब लिंचिंग की घटना जिसके साथ हो रही हो या किसी के सामने हो रही हो वो वो टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर पर संस्था को जानकारी दे।
जल्द ही मदद के लिए टीम भेजी जाएगी।

मॉबलिंचिंग का शिकार हो रहे इंसान को बचाया जाएगा।
अगर अनजान शहर में किसी के साथ मॉब लिंचिंग की घटना होती हैं तो उसको कानूनी मदद दी जाएगी वकील उसका केस फ्री लड़ेंगे।

इस सराहनीय पहल का स्वागत हर अमन पसंद भाइयो ने किया हैं और कहा हैं की इस तरीके से मॉब लिंचिंग की घटनाओं में कमी आएगी और अगर ज्यादा मुस्तेदी से काम किया तो मॉब लिंचिंग की घटनाएं बिल्कुल खत्म हो जाएगी।
मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार भी बहुत जल्द मॉब लिंचिंग पर कानून बनाने जा रही हैं ।
कानून बनाने की प्रक्रिया जारी हैं और बहुत जल्द मध्य प्रदेश सरकार मॉब लिंचिंग के खिलाफ कानून बनाकर विधानसभा में पास करेगी।

मध्य प्रदेश सरकार मॉब लिंचिंग पर कानून बनाने वाली देश की पहली सरकार बनने जा रही हैं
मॉबलिंचिंग पर कानून बन जाने के बाद ऐसी घटनाओं में कमी जरूर आएगी और दूसरे राज्य भी मध्य प्रदेश सरकार की तरह मॉव लिंचिंग को रोकने के लिए कानून जरूर बनाएगे।

बहरहाल ऐसी घटनाएं कायम रुकना चाहिए और हिन्दू,मुस्लिम के बीच जो नफरतो का बीज कुछ तथाकथिक हिंसावादी लोग बो रहे हैं उनकी जड़ों को उखाड़ कर एक नए भारत की फसल तैयार करना हैं।
जिसमे न नफरत हो न धर्म हो न जातपात हो सिर्फ इंसानियत हो और मोहब्बत अमन भाईचारा और प्यार रहे !

SHARE THIS

RELATED ARTICLES

LEAVE COMMENT

प्रतिनिधी:- डॉ.अब्दुल कलाम यांच्या नंतर ज्यांनी अंत:करणात स्थान मिळवळे असे अधिकारी म्हणजे मा. जावेद अहमद. जावेदसाहेब1980 च्या बॅच चे IPS अधिकारी . केवळ देशसेवा करायची...

READ MORE

ग़ैर-मुस्लिम तहज़ीब वालों की तरफ़ से ईद-उल-अज़्हा को बकरा ईद कहा जा रहा है, क्यों ?

July 11, 2020 . by admin

रिपोर्टर:- कोई ये तो बता दे हमे कि ‘हिन्दोस्तान’ के अलावा पूरी दुनिया की इस्लामिक क़िताबों में इस ईद को ‘बकरा ईद’ कहा गया हो?...

READ MORE

मुसलमान पंचर के साथ बहुत कुछ बनाते हैं, मगर किसी को उल्लू नहीं बनाते,  किसी को कोई शक ?

July 10, 2020 . by admin

रिपोर्टर:- एस एम फ़रीद भारतीय” सबसे पहले देश की धर्म व जातीय एकता की मज़बूती देखी इन की वजह से। दूसरे नम्बर पर देश को...

READ MORE

TWEETS