क्या इन सवालों के पुख्ता जवाब है ? अगर नहीं है तो अभी से बोलना शुरू कीजिए!

download – 2021-05-25T232353.343

रिपोर्टर:-

जब इलाज नहीं है तो जो कर रहे हो वह क्या है?
इलाज लक्षण पर क्यों नहीं करते हो?
इलाज टेस्ट पर क्यों करते हो ?
symptomatic और Asymptomatic दोनों का एक ही तरीके से इलाज क्यों करते हो ?

Asymptomatic में जब लक्षण है ही नहीं तो बीमारी कैसे हुआ?
इलाज में जबरन प्रोटोकॉल और दिशानिर्देश क्यों थोप दिए जाते हो?
नाक, मुँह ढँकने से शरीर को कोई नुकसान नहीं हुआ, इसकी क्या गारंटी है?
लॉक डाउन से गरीब, मजदूर, व्यापारी बर्बाद हुए हैं या नहीं?
लोगों को डराया क्यों जा रहा है? सरकार डराती क्यों है?
टीका लेने के बाद बोले थे अस्पताल जाने की नौबत नहीं आएगी! फिर ऐसी नौबत क्यों आयी?

यदि संक्रमण इतना खतरनाक है तो, जो SPG प्रधानमंत्री के पास एक मक्खी नहीं फटकने देता वह बार – बार उनको लाखों की रैलियों में क्यों भेजता रहा?
रेमडीसीवीर, प्लाज्मा, HCQ, आदि के लिए पहले हाहाकार मचाया! अब कह रहे हैं यह सब कारगर नहीं है. ऐसा क्यों?
टीकाकरण में डोज के बीच गैप बढ़ाते रहते हैं कोई एक मानक क्यों नहीं है? आम जनों के शरीर से मजाक क्यों?
नाक, मुँह ढँकने से अब ब्लैक फंगस का खतरा बताया जा रहा है! यह सब पर ध्यान क्यों नहीं दिया गया?
क्या लहर सूचित करके आती है जो कहा जा रहा है तीसरी लहर आएगी?

अक्टुबर में तीसरी लहर की बात की जा रही है? मई से सितंबर तक वायरस घूमने जाएगा क्या?
तीसरी लहर बच्चों पर असर करेगा यह कैसे जान गए? क्या वह मुखड़ा देखकर वार करता है?
इतने प्रचार, प्रसार, डर, मीडिया, मेडिकल माफिया के घेराबंदी के बावजूद कुल आबादी के 1.8प्रतिशत आबादी को संक्रमित बताया जा सका. क्या इसके लिए पूरे आबादी को घर में बंद रहने का फरमान जायज है?

Oxygen toxicity, oxygen poisoning से किसी की डेथ नहीं हुई उसकी क्या गारंटी है?
बिना जरूरत के कई लोगों के मुँह में ऑक्सीजन ठूँस दिया गया क्या इससे नुकसान नहीं हुआ?
क्या experimental drugs का शरीर पर गलत असर नहीं पड़ा?
क्या जो अन्य रोगों के मरीज थे उन्हें समुचित इलाज मिल पाया ?

आम आवागमन की सुविधा न होने पर क्या दूर-दराज के लोगों को सामान्य रोग की स्थिति में इलाज मिल पाया?
खाना-पीना, रोजी, रोजगार, व्यापार, दुकान, स्कूल सब बंद करके क्या मिला? क्या इससे मानसिक अवसाद जन्म नहीं लिया?

लॉक डाउन से आत्महत्या के केस क्यों बढ़े?
टीका के बाद AEFI के केस इतने अधिक क्यों आ रहे हैं?
Vaccinated, Non vaccinated, Negative, Positive, Recovered, स्वस्थ आदमी सबके लिए एक ही नियम क्यों है?

महामारी खुद क्यों नहीं दिखाई पड़ती? टेस्ट का सहारा क्यों लेना पड़ता है?
क्या घबराहट, डर, अवसाद, maas hysteria से लोग परेशान नहीं हुए? क्या इसके कारण मौतें नहीं हुई?
शवों को पैक करके क्यों जला दिया जा रहा है? जबकि कहा गया है शवों से संक्रमण नहीं फैल सकता?
और भी कई सवाल हैं। आपके मन भी सवाल है तो कमेंट बॉक्स में लिख दीजिए. जवाब है तो दीजिए !

SHARE THIS

RELATED ARTICLES

LEAVE COMMENT

रिपोर्टर:- मुख्यमंत्री के हवा हवाई वादों और दौरों से उत्तर प्रदेश की हवा निकल गई, अलीगढ़ की जहरीली शराब से हुई मौतों की जिम्मेदार हैं...

READ MORE

केंद्र की मोदी सरकार का पुरानी तर्ज पर लिया बड़ा फैसलागैर मुस्लिम शरणार्थियों को देगी नागरिकता पर मुस्लिमो को नही?

May 30, 2021 . by admin

रिपोर्टर:- भारत की नरेंद्र मोदी सरकार ने गैर-मुस्लिम शरणार्थियों की नागरिकता को लेकर बड़ा फैसला किया है। देश के 13 जिलों में रहे पाकिस्तान, बांग्लादेश...

READ MORE

नागरिकता क़ानून का आदेश, 28 मई 2021को केंद्रीय गृह मंत्रालय का क्या है नये आदेश की पहल?

May 29, 2021 . by admin

रिपोर्टर :-  केंद्रीय गृह मंत्रालय (MHA) ने अफगानिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश से आए गैर-मुस्लिम शरणार्थियों से भारतीय नागरिकता के लिए आवेदन मांगे हैं। केंद्र सरकार ने...

READ MORE

TWEETS