एकबार नही दो दो बार प्रचंड बहुमत से यूपी के हिंदुओ ने बीजेपी को संसद में भेजा तब ये हिंदू गद्दार नही थे

भाजपा वालों थोड़ा
आत्ममंथन करो

दो दो बार प्रचण्ड बहुमत से इसी उत्तर प्रदेश के हिंदुओं ने भाजपा को संसद में भेजा!
तब उत्तर प्रदेश या हिंदू गद्दार नहीं था।

दो दो बार यही उत्तर प्रदेश योगी आदित्यनाथ को विधानसभा भेजता है।
दो दो बार इन्ही हिंदुओं ने मोदी को प्रधानमंत्री बनाया तब हिन्दू गद्दार नही था।
आज उत्तर प्रदेश का हिंदु गद्दार है?

उत्तर प्रदेश और हिंदुओं को गद्दार कहने से पूर्व आत्ममंथन कीजिए कि आप कहां गलत थे।
आपने स्कंदपुराण मे वर्णित काशी के143 मंदिर गायब नही किये ?

आप ने अयोध्या मे सीता रसौयी आदि प्राचीन स्कंदपुराणोक्त स्थान नही तोडे??
गद्दार कौन..?
आप ने अयोध्या मे कोरीडोर के नाम पर करोडो का भ्रष्टाचार नही किया?

भ्रष्टाचारी कौन..??

आपने गौ हत्यारो से चंदा नही लिया
गद्दार कौन?आपने राम मंदिर की आड़ में बाबरी के लिए 5 एकड़ नहीं दिया?
और यदि इसे आप कोर्ट का निर्णय मानते हैं तो राम मंदिर का श्रेय भी कोर्ट को ही दीजिए।

आप मुलायम सिंह को 300 से ज्यादा कारसेवको का हत्यारा मानते हैं फिर भी मुलायम सिंह को पद्म विभूषण
नहीं दिया?
दोगला कौन?

प्राइवेटाइजेशन कर के सरकारी
नोकरियों खत्म किसने की?
कांग्रेसियों को भाजपा मे लेकर टिकट भी दिया फिर
गद्दार कौन?

हिन्दूओ को गाली क्यो देतो हो।
हिन्दू को वोट से सत्ता पाने के बाद
सब का साथ सब का विकास ऐसा हिन्दू ने तो नहीं कहा?
गद्दार कौन??
चुनाव के दो चरण बाकी थे तब आपने कह दिया भाजपा सक्षम है
RSS की जरूरत नहीं
ईतना घमंड?

काँग्रेस मुक्त भारत के बजाय
काँग्रेस युक्त भाजपा क्या हिन्दूओ ने बनाई ?
गद्दार कौन?

आप अहंकार में इतने मदमस्त थे कि आपने राम को लाने का दंभ पाल लिया। आपके इस अहंकार का दमन
जनता जनार्दन ने किया जो आवश्यक था।

देखिए,
इसी प्रदेश के हिंदुओं ने दो दो बार भाजपा को सदन भेजा है।आपके बिना हिन्दू क्या करेगा..ऐसा सोचना बंद कीजिये. हिन्दू है तो आप है। आपके कारण हिन्दू नहीं है।

ये रुष्टता है इस देश की, ये दंड है। इसे शिरोधार्य कीजिए, शंकराचार्य संतों से क्षमा याचना कीजिए, ईश्वर से क्षमा मांगिए और आपकी कमियों का आकलन कीजिए।
हिंदुओं को भी गद्दार कहने से कुछ नहीं होगा।

आत्म मूल्यांकन कीजिये।

साभार;पिनाकी मोरे

SHARE THIS

RELATED ARTICLES

LEAVE COMMENT