श्रीराम मंदिर के लिए भक्तों द्वारा निधि समर्पण योजना में किए गए दान में कई दानियों के करोड़ों रुपए चेक हुए बाउंस!

मामला दानवीरों का
22 करोड़ रु चेक बाउंस,15 हज़ार चेक वापस

अयोध्या। भगवान श्रीराम मंदिर एक लिए देश भर में भक्तों द्वारा निधि समर्पण योजना में जमकर दान किया गया है। वहीं कई भक्त ऐसे भी हैं जिन्होने करोड़ो रु दान किए हैं। लेकिन इसी में ऐसे भी कई दानी हैं जिनकी चेक बाउंस हो गई है। ऐसे लोगों की संख्या भी 15 हज़ार से अधिक है।

कुल बाउंस हुई चेक का अमाउंट देखें तो यह लगभग 22 करोड़ रु से अधिक का होगा।विश्व हिन्दू परिषद की ओर से देश भर के जिलो की ओर से जारी की गई रिपोर्ट के अनुसार अब तक 3 हज़ार 400 करोड़ रु दान में मिले है। वहीं 22 करोड़ रु से अधिक के चेक बाउंस भी हुए हैं। हालांकि किन कारणों से ये चेक बाउंस हुए हैं इसकी जानकारी अभी तक नहीं हो पाई है।श्रीराम मंदिर के लिए दान करने वालों में लगभग 22 करोड़ रु के कई चेक ऐसे भी हैं जो बाउंस हुए हैं।

इसकी जानकारी निकालकर ऐसे चेक को अलग करते हुए एक दूसरी रिपोर्ट भी बनाई जा रही है। जिससे सही जानकारी हासिल हो सके कि, कौन सी चेक किन कारणो से बाउंस हुई है। क्यूंकी बल्क में या अधिक संख्या में में चेक होने और अन्य कई प्रकार के तकनीकि कारणो की वजह से भी चेक बाउंस हो सकते हैं।

तकनीकी कारणो से बाउंस होने वाले चेक को फिर से बैंक के साथ बैठक करके उन्हे दोबारा रिप्रेजेंट किया जाएगा।वहीं चेक बाउंस कराने वाले सबसे अधिक अयोध्या जिले के लोग हैं। अयोध्या जिले में चेक बाउंस कराने वालों की संख्या 2 हज़ार से अधिक है। जबकि देश भर से आए 15 हज़ार से अधिक लोगों के चेक विभिन्न कारणो से वापस कर दिए गए हैं, जिनमें अकाउंट में बैलेंस नहीं होना भी प्रमुख कारण है।

श्रीराम मंदिर के लिए एक लाख रु से लेकर 5 लाख रु तक दान करने वालों की संख्या 31 हज़ार 663 है। वहीं 5 लाख रु से लेकर 10 लाख तक दान करने वालों की संख्या 1,428 है। 10 लाख से लेकर 25 लाख रु तक दान करने वालों की संख्या 950 है। 25 लाख से लेकर 50 लाख रु दान करने वालों की संख्या 123 है। 50 लाख रु
से लेकर एक करोड़ रु तक दान करने वालों की संख्या 127 है। एक करोड़ से अधिक का दान करने वालों की संख्या 74 है।

SHARE THIS

RELATED ARTICLES

LEAVE COMMENT

अफजल इलाहाबाद क्या आप जानतें हैं कि विश्व बैंक के मालिक सिर्फ़ 13 परिवार हैं ? जी हां विश्व बैंक सरकारी बैंक नहीं है, इसमें...

READ MORE

मिडल ईस्ट में ये एक पिद्दी सा देश है 15,20साल पहले इसकी कोई अहमियत नहीं थी अचानक ही दुनिया के सामने वो धूमकेतु की तरह उभर ,दूजिया का मीडिया हाउस बना ,कैसे इसे जानिए

June 8, 2022 . by admin

संवाददाता राशिद मोहमद खान मिडिल ईस्ट में एक मामूली सा देश है-कतर पन्द्रह बीस साल पहले इसकी कोई अहमियत नहीं थी। इसके बाद अचानक से...

READ MORE

जापान ,भारत समेत 11देशों को मिसाइल और जेट जैसे घातक सैन्य उपकरणों के निर्यात की इजाजत देने की बना रहा है योजना

May 28, 2022 . by admin

डॉक्टर अरूण कुमार मिश्र जापान भारत समेत ग्यारह देशों को मिसाइल और जेट – घातक सैन्य उपकरणों के निर्यात की अनुमति देने की बना रहा...

READ MORE

TWEETS