वेक्सिन की बूस्टर खुराक लेने के बाद भी कैसे हुए ओमी क्रोन sank

नई दिल्ली

ओमिक्रॉन से बचाव के लिए वैक्सीन की बूस्टर यानी अतिरिक्त खुराक को अहम विकल्प माना जा रहा है।
लेकिन दिल्ली में ऐसे भी मामले अब सामने आने लगे हैं जिन्हें तीसरी खुराक लेने के बाद भी कोरोना संक्रमण हुआ है।
ऐसे मरीजों के सैंपल की जीनोम सीक्वेंसिंग में ओमिक्रॉन संक्रमण की पुष्टि भी हुई है। यह तीनों मरीज इनदिनों लोकनायक अस्पताल में भर्ती हैं।
पिछले सप्ताह एकसाथ मिले 12 मरीजों में यह भी शामिल थे।पिछले सप्ताह इन तीनों मरीजों में ओमिक्रॉन संक्रमण की पहचान हुई है।
फिलहाल यह सभी ओमिक्रॉन वार्ड में भर्ती हैं लेकिन इनमें से किसी में भी संक्रमण के लक्षण नहीं है।’
यह जानकारी देते हुए अस्पताल के एक वरिष्ठ डॉक्टर ने बताया, ‘देश में अभी तक बूस्टर खुराक की स्वीकृति नहीं मिली है।
यह लोग हाल ही में विदेश यात्रा पर गए थे और वहां इन्होंने वैक्सीन की अतिरिक्त खुराक ली थी।
दिल्ली आने के बाद एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग में जब कोरोना संक्रमण की पहचान हुई तो इन्हें यहां भर्ती कराया गया।’
हालांकि इन्होंने किस वैक्सीन की बूस्टर यानी अतिरिक्त खुराक ली थी? इसके बारे में जानकारी अब तक सामने नहीं आ पाई है।
दरअसल ओमिक्रॉन के मामले बढ़ने के बाद कई देशों ने बूस्टर खुराक की मंजूरी दे दी है। जर्मनी जैसे देशों में तो अब बच्चों को भी संक्रमण से बचाने के लिए वैक्सीन लगाई जा रही है।
भारत सरकार ने भी अब तक वैक्सीन के बूस्टर खुराक को हरी झंडी नहीं दी है।
हाल ही में नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल ने प्रेस कान्फ्रेंस में कहा था कि सबसे पहले भारत में सभी लोगों को पूरी तरह वैक्सीनेट करना सरकार की प्राथमिकता है।
लोकनायक अस्पताल के अनुसार अब तक यहां 50 से ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीजों को भर्ती किया जा चुका है जिनमें कुल 22 लोग ओमिक्रॉन संक्रमित मिले हैं।
इनमें से 10 मरीजों को छुट्टी मिल चुकी है और 12 ओमिक्रॉन संक्रमित मरीजों का इलाज अभी चल रहा है।जानकारी मिली है कि इन 22 में से करीब 14 मरीज ऐसे भी भी हैं जिन्होंने वैक्सीन की दोनों खुराक काफी समय पहले ली हैं।
वहीं तीन मरीज तीसरी खुराक लेने के बाद भी संक्रमित हुए हैं। हालांकि पांच मरीजों का टीकाकरण पूरा नहीं

ओमिक्रॉन एलर्ट: भारत में ओमिक्रॉन के अबतक 174 संक्रमित,डब्‍ल्‍यूएचओ प्रमुख की चेतावनी
भारत में पांच राज्यों में ओमिक्रॉन के 19 नए मामले सामने आए हैं,
जिसके बाद देश में अब तक 174 लोग ओमिक्रॉन संक्रमण का शिकार हो चुके हैं।
दिल्ली में ओमिक्रॉन के आठ नए मामले सामने आए।
वहीं कनार्टक में पाचं तो केरल में भी चार नए मामले दर्ज किए गए।

इसके अलावा राजस्थान व गुजरात में एक-एम ओमिक्रॉन संक्रमित की पुष्टि हुई।
सोमवार को इन पांच राज्यों में सामने आए 19 मामलों के बाद देश भर में 174 लोग ओमिक्रॉन से संक्रमित हो चुके हैं।
ओमिक्रॉन वैरिएंट धीरे-धीरे खतरनाक होता जा रहा है।अमेरिका में इस संक्रमण से पहली मौत दर्ज की गई है।इससे पहले ब्रिटेन में भी ओमिक्रॉन से एक मौत हो चुकी है। इसके बाद दुनिया में अब तक कोरोना के इस नए वैरिएंट से मरने वालों की संख्या दो हो गई है।

ओमिक्रॉन एलर्ट:अमेरिका में ओमिक्रॉन से पहली मौत,कई राज्यों में फैला संक्रमण, महज एक सप्ताह में तीन से 73 फीसदी हो गए संक्रमित।
कोरोना का नया वैरिएंट दुनियाभर में तेजी से फैल रहा है।
अमेरिका में तो यह कोहराम मचाने लगा है। सोमवार को यहां इस नए वैरिएंट से पहली मौत की पुष्टि हुई तो 73 फीसदी कोरोना के मरीज ओमिक्रॉन से भी संक्रमित पाए गए।
खतरे वाली बात यह है कि यह आंकड़ा महज एक सप्ताह के अंदर ही इतनी तेजी से बढ़ा है।
सप्ताह भर पहले यहां तीन फीसदी कोरोना के मरीज ओमिक्रॉन से संक्रमित हो रहे थे।
सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल ऐंड प्रिवेंशन(सीडीसी) ने बताया कि अमेरिका में एक सप्ताह में ही ओमिक्रॉन के मामले में छह गुना बढ़ोतरी हुई है।

तो दूसरी ओर
ब्रिटेन में कोरोना के रिकॉर्ड 91743 नए मामले दर्ज,प्रधानमंत्री जानॅसन बोले- हमें सख्त लॉकडाउन से संकोच। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि कैबिनेट हर घंटे कोविड-19 के आंकड़ों की निगरानी कर रही है।
क्योंकि देश में कोरोना वायरस संक्रमण का एक और रिकॉर्ड स्तर 91,743 दर्ज किया गया है।
उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि सरकार कोरोना के मामलों में जारी उछाल के बीच क्रिसमस से पहले सख्त लॉकडाउन जैसे उपायों को अपनाने में संकोच नहीं करेगी।ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने सोमवार को कहा कि कैबिनेट हर घंटे कोविड-19 के आंकड़ों की निगरानी कर रही है।
क्योंकि देश में रोजाना कोरोना वायरस संक्रमण का एक और रिकॉर्ड स्तर 91,743 दर्ज किया गया है।
एक लंबी कैबिनेट बैठक के बाद पीएम जॉनसन ने संवाददाताओं से कहा कि सरकार कोरोना वायरस के मामलों में जारी उछाल के बीच क्रिसमस से पहले सख्त लॉकडाउन जैसे उपायों को अपनाने में संकोच नहीं करेगी।
उन्होंने घोषणा की कि आगे की कार्रवाई करने से पहले ओमिक्रॉन वैरिएंट के संबंध में कुछ चीजें स्पष्ट होनी चाहिए।
दुर्भाग्य से मुझे लोगों से कहना होगा कि हमें जनता की रक्षा के लिए,
सार्वजनिक स्वास्थ्य और हमारे राष्ट्रीय स्वास्थ्य ढांचे की रक्षा के लिए आगे की कार्रवाई करने के सभी विकल्पों और संभावनाओं को ध्यान रखना होगा।

SHARE THIS

RELATED ARTICLES

LEAVE COMMENT

एडमिन चेहरे, तस्वीरें बदली जा सकती है निजाम नही बदले जा सकते। जी हां ! क़ज़ाक़िस्तान की अवाम ने क़ज़ाक़ सदर क़ासिम जमरात तौक़ीर” की...

READ MORE

साल के आखरी में चीन ने हम सब देशवासियों को एक ऐसी दुर्भाग्यपूर्ण खबर का तोहफा दे दिया है

December 31, 2021 . by admin

नई दिल्ली संवाददाता अफजल शेख CHINA CHANGED THE NAME OF ARUNACHAL PARDESH TO #ZANGNAN AND OTHER 14 PLACES BASED ON HISTORY साल के अन्त मे...

READ MORE

वेक्सिन की बूस्टर खुराक लेने के बाद भी कैसे हुए ओमी क्रोन sank

December 21, 2021 . by admin

नई दिल्ली ओमिक्रॉन से बचाव के लिए वैक्सीन की बूस्टर यानी अतिरिक्त खुराक को अहम विकल्प माना जा रहा है। लेकिन दिल्ली में ऐसे भी...

READ MORE

TWEETS