विश्व बैंक कोई सरकारी बैंक नही पर इस बैंक के कुल कितने मालिक है? जानिए

अफजल इलाहाबाद

क्या आप जानतें हैं कि विश्व बैंक के मालिक सिर्फ़ 13 परिवार हैं ?
जी हां विश्व बैंक सरकारी बैंक नहीं है, इसमें दुनियां के महज 13 सबसे अमीर परिवारों का पैसा लगा हुआ है !
इसका एक मुख्यालय अमेरिका के वाशिंगटन डीसी में और दूसरा मुख्यालय जर्मनी में है !

इनके पास इतना पैसा है कि यह बैंक दुनियां के हर देश की सरकारों को कर्ज देता है!
संयुक्त राष्ट्र संघ कहनें को तो दुनियां से सभी देशों की सांझी पंचायत है, पर हकीकत में UNO एक ऐसा संगठन है जो विश्व बैंक परिवार द्वारा संचालित और वित्त पोषित ह।

विश्व बैंक के मालिक इन 13 संघीय बैंकरों/मालिकों का सिक्का सीधे संयुक्त राज्य अमेरिका पर चलता है।
इसे संचालित करनें वाले कुल 13 परिवार हैं, जिन्हें एलुमनी कहा जाता है जो 1776-77 में बनाए गए थे।
विश्व बैंक के मालिक सभी 13 मुख्य घरानें जर्मनी और संयुक्त राज्य अमेरिका से हैं और उनकी कुल संपत्ति 6000 करोड़ ट्रिलियन बताई जाती है, जो दुनिया की कुल संपत्ति का लगभग 70% है।

किसी भी देश के प्रधानमंत्री की नियुक्ति उन्हीं 13 परिवारों द्वारा की जाती है जो इन परिवारों के हितों को ध्यान में रखकर ही अपना देश चलाते हैं।
विश्व बैंक ऋण देनें के बदले में देशों के साथ समझौता करता है कि पहले हमारी ये शर्त मानों हम फिर तुम्हें पैसा देगें, मतलब दुनियां की सरकारों को पैसा ये अपनी शर्तों पे देता है।

विश्व बैंक के में 13 परिवारों की इसी नीति के अनुसार ही भारत (फेडरेशन डायरेक्ट ट्रेड एसोसिएशन) का मनमोहन सिंह सरकार के साथ समझौता हुआ था।
भारत में मुख्यधारा की दोनों पार्टियों की सरकारें कांग्रेस और भाजपा इन 13 पूंजीपतियों की आंतरिक गुलाम हैं।
जरा सोचो 1947 में जब भारत और पाकिस्तान के बीच विभाजन हुआ तो नदियों को बांटने में विश्व बैंक क्यों शामिल था ?

क्योंकि विश्व बैंक की स्थापना 1944 में संयुक्त राज्य अमेरिका में तब हुई थी जब द्वितीय विश्व युद्ध में दो पूंजीपतियों के बीच युद्ध चरम सीमा पर था, इस युद्ध में पूरी इंसानियत पिस गई थी।
विश्व बैंक इतना शक्तिशाली है कि वह दुनियां के किसी भी देश को कभी भी युद्ध में झोंक सकता है।

अब सबसे चिंताजनक बात यह है कि विश्व बैंक के मालिक इन 13 निजी परिवारों की नजर अब पंजाब, हरियाणा, यूपी सहित देश के ज़रखेज़ खेती वाले मैदानी इलाकों की उपजाऊ जमीन के साथ ही पाकिस्तान की जमीन पर भी है।
यह बात एजेंसियां ​​भी समझती हैं, लेकिन कोई रास्ता बचा नहीं है, क्योंकि कागजों पर हमारे गावों की जमीनें हमारे देश के बैंकों के पास गिरवी हैं और दिलचस्प बात ये है कि हमारे बड़े बैंक और हमारा देश भी इन 13 परिवारों के विश्व बैंक के पास गिरवी रखा हुआ है।

3 कृषि कानून भी इसी कड़ी का हिस्सा थे । बेशक देश को आजाद हुए काफी समय हो गया है लेकिन आज भी देश को ये 13 परिवार ही चलाते हैं।

इनका मुख्यालय ऐल्युमीनाती इजराईल ओर न्यूयार्क भी है।

SHARE THIS

RELATED ARTICLES

LEAVE COMMENT

अफजल इलाहाबाद क्या आप जानतें हैं कि विश्व बैंक के मालिक सिर्फ़ 13 परिवार हैं ? जी हां विश्व बैंक सरकारी बैंक नहीं है, इसमें...

READ MORE

मिडल ईस्ट में ये एक पिद्दी सा देश है 15,20साल पहले इसकी कोई अहमियत नहीं थी अचानक ही दुनिया के सामने वो धूमकेतु की तरह उभर ,दूजिया का मीडिया हाउस बना ,कैसे इसे जानिए

June 8, 2022 . by admin

संवाददाता राशिद मोहमद खान मिडिल ईस्ट में एक मामूली सा देश है-कतर पन्द्रह बीस साल पहले इसकी कोई अहमियत नहीं थी। इसके बाद अचानक से...

READ MORE

जापान ,भारत समेत 11देशों को मिसाइल और जेट जैसे घातक सैन्य उपकरणों के निर्यात की इजाजत देने की बना रहा है योजना

May 28, 2022 . by admin

डॉक्टर अरूण कुमार मिश्र जापान भारत समेत ग्यारह देशों को मिसाइल और जेट – घातक सैन्य उपकरणों के निर्यात की अनुमति देने की बना रहा...

READ MORE

TWEETS