मध्य रेलवे के महाप्रबंधक का जुन्नारदेव दौरा बना शोभा की सुपारी,जनप्रतिनिधिगण और प्रेस क्लब ने सौंपा ज्ञापन,जुन्नारदेव की आशाएं हुई धूमिल नही मिली कोई सौगात

तकीम अहमद

महीनों की तैयारी को नहीं मिली उड़ान, 42 मिनट में ही खत्म हुआ दौरा
लाहोटी संग फोटो खिंचाने में उतावले दिखे जनप्रतिनिधिगण एवं नेतागण

जुन्नारदेव–
मध्य रेलवे के मुख्य महाप्रबंधक अनिल कुमार लाहोटी का बहुप्रतीक्षित दौरा आज संपन्न हो ही गया. दोपहर बाद जुन्नारदेव रेलवे स्टेशन पर पहुंचे मुख्य महाप्रबंधक अनिल कुमार लाहोटी ने अपने लगभग 42 मिनट के इस दौरे में जुन्नारदेव रेलवे स्टेशन के विभिन्न विभागों मे पहुंचकर निरीक्षण किया।

इसके अलावा उन्होंने आरपीएफ थाने में पहुंचकर विशेष उपकरणों का निरीक्षण और जवानों की अद्वितीय क्षमता का प्रदर्शन भी देखा. मध्य रेलवे के मुख्य महाप्रबंधक अनिल कुमार लाहोटी के इस दौरे का निराशाजनक पहलू यह भी कहा कि वह आम जनता की भावनाओं से नहीं जुड़ सके।

इसका प्रमुख कारण उनके दल में आए बड़े अधिकारी और इस दल में आए आरपीएफ के आला अधिकारी बने. इसके अलावा बीते 6 माह से इनके दौरे के लिए चल रही तैयारियों में खर्च हुए करोड़ों रुपए की लागत के निर्माण कार्य की घटिया गुणवत्ता का भी वह निरीक्षण नहीं कर पाए. नागपुर मंडल के आला अधिकारियों ने बड़ी ही चतुराई से उनका यह दौरा मिनटों में ही कोई बगैर उपलब्धि के संपन्न करा दिया।

मुख्य महाप्रबंधक अनिल कुमार लाहोटी ने अपने इस संक्षिप्त दौरे में क्षेत्रीय विधायक, परासिया के विधायक जुन्नारदेव, नपाध्यक्ष, आम आदमी पार्टी सहित सतपुड़ा प्रेस क्लब के पदाधिकारियों से चर्चा की. मध्य रेलवे के मुख्य महाप्रबंधक अनिल कुमार लाहोटी के इस दौरे के दौरान नागपुर मंडल की डीआरएम रिचा खरे, आरपीएफ के सीनियर डीएससी आशुतोष पांडे सहित नागपुर मंडल सहित मुख्य महाप्रबंधक के मुंबई कार्यालय के आला अधिकारी इस दौरे में उनके साथ थे।

इस दौरे में जुन्नारदेव के स्टेशन प्रबंधक संजय वर्मा, दीपक बेहरा, संजय सिंह, आरपीएफ थाना प्रभारी बलबीर सिंह सहित रेलवे के स्थानीय अधिकारी व कर्मचारी गण मौजूद रहे।
मात्र औपचारिकता में बदल गया मुख्य महाप्रबंधक लाहोटी का दौरा।
बीते लगभग 6 माह से मुख्य महाप्रबंधक लाहोटी के इस दौरे को लेकर स्थानीय रेलवे स्टेशन में खासी तैयारियों का ज़ोर रहा.।

गौरतलब है कि जुन्नारदेव रेलवे स्टेशन में मध्य रेलवे के किसी महाप्रबंधक का यह दौरा 10 वर्ष के बाद आज हुआ था, इससे पहले सन 2012 में मध्य रेलवे के महाप्रबंधक भी जहां पहुंचे थे। आज दोपहर की 3:42 पर जुन्नारदेव रेलवे स्टेशन पहुंचे. मुख्य महाप्रबंधक निरीक्षण उपरांत एवं जनप्रतिनिधि गणों से भेट के बाद 4:24 पर छिंदवाड़ा की ओर रवाना हो गए। वह लगभग जुन्नारदेव रेलवे स्टेशन पर 42 मिनट रहे।

करोड़ों रुपए के घटिया निर्माण कार्यों का नहीं किया निरीक्षण, किसी पर भी नहीं गिरी गाज.
जुन्नारदेव रेलवे स्टेशन पर मुख्य महाप्रबंधक के दौरे को लेकर करोड़ों रुपए के निर्माण कार्य व अन्य तैयारियां की गई थी, लेकिन सिर्फ 42 मिनट के अपने इस दौरे में वह यहां किये गए करोडो रुपए के निर्माण कार्यों का निरीक्षण ही नहीं कर पाए।

दरअसल इसका बड़ा कारण नागपुर के आला अधिकारी रहे जिन्होंने मुख्य महाप्रबंधक को रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म से निर्माण स्थल की ओर जाने ही नहीं दिया। उल्लेखनीय है कि महाप्रबंधक के दौरे के मद्देनजर जल्दबाजी में कराए गए निर्माण कार्यों की घटिया गुणवत्ता मीडिया के निशाने पर रही है.
*जनप्रतिनिधि गणों एवं पत्रकारों ने रखी अपनी मांगे।

सेंट्रल रेलवे ज़ोन के सबसे बड़े अधिकारी मुख्य महाप्रबंधक अनिल कुमार लाहोटी के इस दौरे पर उनसे भेंट हेतु बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधिगण एवं पत्रकार उपस्थित थे. यहां पर जुन्नारदेव विधायक, परासिया विधायक, आम आदमी पार्टी एवं नगर पालिका परिषद के नपा अध्यक्ष ने उनसे प्रत्यक्ष भेंट कर अपना मांग पत्र सौंपा. इसी दौरान जनहित के मुद्दों से जुड़ा एक मांग पत्र सतपुड़ा प्रेस क्लब के द्वारा मुख्य महाप्रबंधक को सौंपा गया।

,रामपुर टंकी से पुलिया तक की सड़क के मरम्मतीकरण पर आमजन की अधूरी खुशी.
स्थानीय नागरिकों के लिए बीते 8 वर्षों से सरदर्द बन चुकी और स्थानीय जनप्रतिनिधियों की अक्षमता की निशानी रामपुरेर टंकी से चर्च पहुंच मार्ग की सड़क पर अंततः रेल विभाग के द्वारा कोटिंग कर ही दी गई थी, जिसके का आम नगरवासी इस बात को लेकर खासे उत्सुक थे कि आखिर वह कौन अधिकारी की वजह से यह सड़क पर कार्य किया गया है ?

यही कारण था कि आज उनको देखने बड़ी संख्या में स्थानीय नगर वासी स्टेशन पहुंचे. गौरतलब है कि रामपुरेर टंकी से चर्च पहुंच मार्ग की अत्यंत खस्ताहाल टूटी-फूटी यह सड़क पर मुख्यमंत्री, प्रभारी मंत्री, सांसद एवं विधायक सहित जिला कलेक्टर व अन्य आला अधिकारी गण आवागमन करते रहे हैं, पर यह समस्त जनप्रतिनिधि गण एवं आला अधिकारी इस सड़क की दुर्दशा की तस्वीर नहीं बदल पाए थे।

लेकिन अचानक ही मध्य रेलवे के मुख्य महाप्रबंधक अनिल कुमार लाहोटी के दौरे के ठीक पहले आनन-फानन में मात्र 2 दिन में ही रेल ठेकेदार के द्वारा नाम मात्र के लिए 90 मीटर सड़क की रिमूवल कोटिंग कर दी गई। जिससे आगामी कुछ दिनों तक आम जनता का सुखद आवागमन हो पाएगा, हालांकि यह तय माना जा रहा है कि घटिया गुणवत्ता और जल्दबाजी में तैयार यह सड़क पहली बारिश में ही अपनी पुरानी स्थिति में लौट आएगी।

अर्थात 2 दिन की चांदनी फिर अंधेरी रात की कहावत यह सड़क एक बार फिर सिद्ध कर देगी.
महाप्रबंधक अनिल लाहोटी को रास आया आरपीएफ जवानों का करिश्मा, नाइट विजन कैमरा का किया अवलोकन
मुख्य महाप्रबंधक के जुन्नारदेव दौरे को लेकर आरपीएफ थाना में खासी व्यवस्थाएं की गई थी. इन तैयारियों को देखकर अनिल कुमार लाहोटी खासे प्रसन्न नजर आए. यहां पर विशेष रूप से लाया गया नाइट विजन कैमरा का अवलोकन उनके द्वारा किया गया।

गौरतलब है कि इस नई तकनीक के कैमरे में गहरे अंधेरे में भी चमक रोशनी के जैसे विजन (द्रष्टव्य) पैदा होता है, जिसमें आरपीएफ के जवान किसी भी संदिग्ध को आसानी से ताड़ सकते हैं. इसके अलावा आरपीएफ के 2 जवानों ने अपनी आंखों पर पट्टी बांधकर खतरनाक हथियार को पूरी तरह से खोल कर उसे सफलतापूर्वक लोड कर दिया गया, जिसको देखकर अनिल कुमार लाहोटी ने दांतो तले उंगली दबा ली. गौरतलब है कि इस तरह के हथियार को आंख खोल कर भी आसानी से इतनी जल्दी लोड नहीं किया जा सकता है जैसा करिश्मा इन दोनों आरपीएफ के जवानों ने किया था।

SHARE THIS

RELATED ARTICLES

LEAVE COMMENT

पाकिस्तानी मीडिया ने की पीएम मोदी की जमकर तारीफ, कहा- भले नफरत करें लेकिन पाकिस्तान के एक प्रमुख अखबार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जमकर...

READ MORE

कांग्रेस द्वारा मोदी जी से पूछे गए वह क्या है पांच प्रश्न और उनके जवाब का विवरण ? खुलासा जानिए

December 23, 2022 . by admin

चीनी घुसपैठ पर, प्रधानमंत्री मोदी से पांच सवाल 17 दिसंबर, 2022 को लोकसभा में कांग्रेस ने प्रधानमंत्री से चीन पर 7 प्रश्न पूछे थे, पर...

READ MORE

अगले 90दिनों में चीन की 60%से ज्यदा आबादी होगी संक्रमित लाखों लोग काल के गाल में समा जायेंगे,मचेगी तबाही?

December 21, 2022 . by admin

आगामी 90 दिनों में चीन की 60% से अधिक आबादी संक्रमित होगी COVID-19 प्रतिबंधों में ढील के बाद, चीन कोरोनोवायरस मामलों में भारी वृद्धि का...

READ MORE

TWEETS