नन्हे मुन्हे मासूमो को मोबाइल देकर कर रहे है उनके जीवन से खिलवाड़ आखिर जिम्मेदार कौन ? माँ बाप या कोई और ?

images (5)

रिपोर्टर:-

आज कल छोटे छोटे नन्हे मासूम मोबाइल में दिन रात बिजी रहते है।

जैसे गेम खेलना,कार्टून सीरियल देखना जैसी एक आदत बन गया है।

लेकिन कही न कही इसके जिम्मेदार खुद बच्चो के माता पिता ही है जो अपने बच्चो को मोबाइल देकर खुद को फ्री समझना ये एक बहुत बड़ी लापरवाही का सबब है।

अगर बच्चा रो रहा है या जिद कर रहा है तो हम लोग तुरन्त मोबाइल देकर बच्चो को शांत कर देते है।
मोबाइल की आदत के कारण 10 प्रतिशत बच्चों की टेढ़ी हो गयी आंखे ।

20 प्रतिशत बच्चों की ज्यादा मोबाइल देखने से कमजोर हो गयी आंखे ।
इसलिए बच्चो को मोबाइल से दूर रखें।

SHARE THIS

RELATED ARTICLES

LEAVE COMMENT

मुंबई:-मेहमूद शेख. मामला ओशिवरा पुलिस के अंतर्गत आनेवाली ‘नमर्दा अपार्टमेंट बिल्डिंग’ के फ्लैट न. ३३१ का है ! जहाँ दि. २२ जुलाई को तकरीबन रात...

READ MORE

धोनीच्या क्रिकेटमधून निवृत्तीबाबत धोनीच्या मॅनेजरचं क़ाय वक्तव्य आहे ? पाहा !

July 21, 2019 . by admin

प्रतिनिधि. धोनीच्या निवृत्तीबाबत गेल्या अनेक दिवसांपासून चर्चा सुरु आहे ! भारताचा माजी कर्णधार आणि विकेटकीपर महेंद्रसिंग धोनीच्या निवृत्तीबाबत गेल्या अनेक दिवसांपासून चर्चा सुरु आहे. वर्ल्डकपनंतर...

READ MORE

पृथ्वी की वह कौनसी 9 प्रकार की जानकारिया है ? जानिए !

July 21, 2019 . by admin

रिपोर्टर:- दो लिंग : नर और नारी । दो पक्ष : शुक्ल पक्ष और कृष्ण पक्ष। दो पूजा : वैदिकी और तांत्रिकी (पुराणोक्त)। दो अयन...

READ MORE

TWEETS