गृह मंत्री अमित शाह के उस बयान परचाचा भतीजे मदनी इतने खामोश क्यों ?

download (7)

रिपोर्टर:-

हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन शरणार्थियों को देश नहीं छोड़ना होगा : गृह मंत्री अमित शाह !
माननीय गृह मंत्री जी यह ऊपर लिखे लोग देश क्यों छोड़ेंगे? यह तो भारत के मूल निवासी हैं।

आपका यह बयान बहुत भयंकर कूटनीतिक चाल है।
आम आदमी इस बयान की गंभीरता को नहीं समझेगा।
लेकिन यहां असल सवाल यह है कि जमीयत उलेमा हिंद के सदर मौलाना अरशद मदनी और उनके भतीजे मौलाना महमूद मदनी गृहमंत्री के उपरोक्त बयान पर खामोश क्यों हैं ?
दोनों मौलानाओं में आजकल भाजपा सरकार के गुणगान करने की होड़ मची है।
एक आर एस एस प्रमुख की और दूसरे अमित शाह की चापलूसी में लगे हैं।

यह हमारे दोनों ही हजरत जी इस मुद्दे पर नहीं बोलेंगे,
क्योंकि यह डरे और सहमे हुए हैं।
कहीं जांच एजेंसियों का रूख और उनकी टेढी नजर इनकी अकूत धन संपत्ति,जो इन्होंने मजहब की आड़ में गरीब और मजलूम मुसलमान के जज्बात से खिलवाड़ कर कमाई है की तरफ उड़ जाए ।
क्योंकि इन दोनों को आम मुसलमानों से कोई मतलब नहीं है।

इनका मकसद सिर्फ अपने मजहबी और अकूत धन संपत्ति के राज्य को सरकार की टेढ़ी नजर से बचाना मात्र है ।
यही वह कारण है कि मौलाना महमूद मदनी बार बार सांसद असदुद्दीन ओवैसी को धमकाते हैं।
कि वह हैदराबाद और तेलंगाना से बाहर ना निकले ।
हम उन्हें इंडियन मुस्लिम का पॉलीटिकल लीडर हरगिज़ नहीं बनने देंगे!

मुस्लिम नौजवानों को मौलाना महमूद मदनी से पूछना चाहिए कि वह मुसलमानों में लीडरशिप क्यों पैदा होने नहीं देना चाहते?
क्यों वह सांसद असदुद्दीन ओवैसी को इंडियन मुस्लिम का पॉलीटिकल लीडर बनने से रोकना चाहते हैं-?
आखिर क्या तकलीफ है उनको और क्या डर है ?

SHARE THIS

RELATED ARTICLES

LEAVE COMMENT

नई दिल्ली:- राज्यसभा ने शस्त्र अधिनियम 1959 में संशोधन के लिए शस्त्र अधिनियम (संशोधन) विधेयक 2019 पारित किया। इसे पहले लोकसभा ने सोमवार को मंजूरी...

READ MORE

अगली बार रेलयात्रियों के लिए क्यों अच्छी खबर नही है ? जाने !

December 12, 2019 . by admin

रिपोर्टर:- रेल में सफर करना और महंगा होने जा रहा है। भारतीय रेलवे (Indian Railway) जल्द ही यात्री किराये में बढ़ोतरी कर सकता है। खबर...

READ MORE

दिन भर चली चर्चा के बाद देर रात पास हुआ नागरिकता (संशोधन) बिल, उक्त बिल में मुस्लिमो पर केंद्र सरकार का रवैय्या सवालों के घेरे में ?

December 10, 2019 . by admin

रिपोर्टर:- पक्ष में पड़े 311 मत तो विरोध में मात्र 80, कांग्रेस ने किया बिल का विरोध ! बहुचर्चित नागरिकता संशोधन बिल को अंततः दिन...

READ MORE

TWEETS