गुवाहाटी हाईकोर्ट ने ऐसे क्यों फैसला दिया कि वोटर आईडी, PAN कार्ड या जमीन के कागजों से साबित नही होती है नागरिकता ?

images (39)

रिपोर्टर:-

गुवाहटी हाई कोर्ट ने मंगलवार को दायर एक याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि, फोटो युक्त वोटर आईडी कार्ड किसी व्यक्ति की नागरिकता का अन्तिम सबूत नहीं हो सकता है।
हाईकोर्ट ने कहा कि, भूमि राजस्व रसीद, पैन कार्ड और बैंक दस्तावेजों का उपयोग नागरिकता साबित करने के लिए नहीं किया जा सकता है?
ट्रिब्यूनल ने महिला को विदेशी नागरिक की श्रेणी में रखा था।
हालांकि, भूमि और बैंक खातों से जुड़े दस्तावेजों को प्रशासन के स्वीकार्य दस्तावेजों की सूची में रखा गया है।

SHARE THIS

RELATED ARTICLES

LEAVE COMMENT

रिपोर्टर:- ख़ुद को सबसे शक्तिशाली समझने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने कोरोना वायरस के आगे टेके घुटने। क्या अमेरिका में दो लाख से अधिक लोगों...

READ MORE

क़ाय कोरोना च्या भीति ने चाकर्मणी मुम्बई सोडून आप आपल्या गावी जायला उत्सुक आहेत ?

March 29, 2020 . by admin

रत्नागिरी-सिंधुदुर्ग विभागाचे माननीय खासदार विनायक राऊत , यांनी महाराष्ट्राचे मुख्य मंत्री माननीय उद्धव बाळासाहेब ठाकरे ह्यांना विनंती पत्र पाठवून, रत्नागिरी-सिंधुदुर्ग विभागातील सध्या मुंबई मधे असलेल्या...

READ MORE

CAA,NRCऔर NPR को लेकर प्रधानमंत्री और ग्रहमंत्री से उलमाओ ने की मुलाकात, सौपा ज्ञापन, तो क्या अब किसी को भी घबराने की जरूरत नही ?

March 29, 2020 . by admin

 बरेली:- गत दिनों प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी और ग्रहमंत्री श्री अमित शाह जी से आल इंडिया तन्जी़म उलमा-ए-इस्लाम के उलमा का एक प्रतिनिधि मण्डल...

READ MORE

TWEETS